Best & Healthy Cooking Oils In India

By | January 30, 2021
Best & Healthy Cooking Oils In India

ऑयल भारतीय कुकिंग गायक बहुत इंपॉर्टेंट बात है, लेकिन आप कौन सा फोन यूज करते हैं? क्या आप संसार ऑयल ग्राउंडनट ऑयल यूज करते हैं। वीडियो को शेयर करने वाला हूं कि नहीं।

मार्केट में हम भारतीय खाना बनाने के लिए कुकिंग ऑयल का खूब इस्तेमाल करते हैं। इसलिए हिंदी ओल्ड को यूज करना बहुत जरूरी है।

 

Best & Healthy Cooking Oils In India

Reality of Cooking Oil in India

अगर आप रोज रोज हिंदी में खाना पकाएं के खिलाफ केस डायबिटीज का कारण बताते हो तो पहले बात करते हैं रिफाइंड ऑयल स्कीमर। राजस्थान ग्राउंडनट सोयाबीन ऑयल भारती मार्केट में मिलता है। वो रिफाइंड होता है, लेकिन उसमें प्रॉब्लम क्या है? दोस्तों सुनने में भले ही बड़ा डर लगता हो, लेकिन मेडिकल डिफाइन डॉली का मतलब है। फॉर एंडॉयड जी हां, खराब है, प्रोसेस होता है। सबसे पहले से भी ज्यादा टेंपरेचर इन गैस का इस्तेमाल करके एक्स्ट्रा किया जाता है। ना होने की वजह से ऑयल में मौजूद विटामिंस एंड मिनरल्स खत्म हो जाते हैं। टूट जाते हैं, ट्रांसलेट बनने लगते हैं। प्रोसेस यहां खत्म नहीं होता और को दोबारा हाई टेंपरेचर्स पर गर्म किया जाता है ताकि का टेस्ट न्यूट्रलाइफ किया जा सके और खुशबू खत्म हो जाए तो जैसे हॉस्पिटल बे टेबल्ड आई मिठाई ब्लॉक्स इन जैसे एंटीफोमिंग एजेस्टा ले जाते हैं और लंबे समय तक चल सके और गर्म करने पर झाग ना बने।

बसता है वह होता है कलर लेस लेस ओल्ड लेस और न्यूट्रीशन लेस लिक्विड कोई सा भी हो। एक बार अगर वह रिफायनिंग प्रोसेस सिंह गुर्जर गया। तू अपनी सारी नेशनल प्रॉपर्टीज कर देते हैं। बिल्कुल खराब हो जाता है। लोग आजकल इसी रिफाइंड ऑयल को दिन में तीन चार बार खाना बनाने के लिए यूज करते हैं। ऐसे लोग में बहुत प्रॉब्लम जा सकते हैं तो यहां आऊंगा कि आपके किचन में रिफाइंड ऑयल है तो उसे खिड़की से बाहर करेंगे तो फिर क्या करें। यूरोपीयन यूनियन की जबरदस्त मार्केटिंग के चलते आज कल आपको इंडियन सुपरमार्केट्स में ऑलिव ऑयल की भरमार मिल जाएगी। लेकिन क्या हॉलीवुड हिंदी है बिल्कुल ओनली हिंदी स्टोरी? लेकिन भारत में रहते हुए मैं आपको बिल्कुल भी होने वाली उस करने के लिए कमेंट नहीं करूंगा। इसके 3 कारण है। पहला तो यही होता है। 12 सो रुपए से भी ज्यादा होने की वजह से रोज-रोज वॉलीबॉल में खाना पकाना ज्यादातर लोगों के बजट में नहीं है। दूसरा ऑलिव ऑयल की इतनी ज्यादा बढ़ती पापुलैरिटी के चलते इसकी कॉपी कैसे देखे जा चुके हैं। इसके साथ अच्छे से नहीं होता। मतलब सोच कर भेजी आप आलू के पराठे वॉल्यूम में बनाए तो कैसा टेस्ट आएगा है। अगर आप आसानी से मिलिट्री विशेष बना रहे हैं लेकिन इसके लिए।

भारतीय मार्केट में जो हिंदी वह हमारी डिशेस का फ्लेवर भी बढ़ाएं और हमारी जेब में भी ना काटे बिल्कुल कॉन्फ्रेंस का तेल सरसों का तेल और नारियल का तेल बेस्ट ऑय आपके लिए नहीं बल्कि पॉलिटेक्निक में सीट से ऑयल निकालने के लिए ही का इस्तेमाल नहीं होता। ऐसे ऑयल निकालने के लिए बेस्ट क्वालिटी सीड्स का इस्तेमाल होता है और इसी वजह से ऑयल जो निकलता है, वह भी हाई क्वालिटी होता है जिसके लिए यूज किया जा सकता है। किसी दिन का स्कोर एंड टेंपरेचर होता है जिसके ऊपर उनके फैंस टूटने लगते हैं और ऑयल खराब हो जाता है।

की कॉन्ट्रोवर्सी पर बात करना अच्छा मार्केटिंग कैंपेन लॉन्च हुआ था जिसकी वजह से यह मन हिंदी है, लेकिन पता चला कि हां जरूरी बात सच है कि कोकोनट ऑयल रेट होता है लेकिन मीडियम 3 फैटी एसिड कहा जाता है। इन फैटी एसिड बॉडी के लिए हिंदी में आज 15 से भी ज्यादा सेट किया है कि कुछ और तमिलनाडु में तो सदियों से लोगों का ऑयल का इस्तेमाल करते आ रहे हैं और सर्विस बताते हैं कि उनके प्रिंस और हाट्सएक्स निकालते हिंदी में एक और कॉन्ट्रोवर्सी हुई थी। सरसों के तेल को लेकर सरसों के तेल में क्योंकि 47 परसेंट हीरो से कैसे होता है। इस वजह से इसे भी टारगेट किया गया था। यूरोप में दो इसे खाने के लिए बैन कर दिया गया है। का कारण था। एक स्टडी जो लैबोरेट्री रेस में कंडक्टर की गई थी। इंच में सरसों का तेल पिलाय गया जिसकी वजह से इनके हाथ में प्रॉब्लम देखे गए।

आज तक सरसों के तेल के कोई भी हार्मफुल इफेक्ट नहीं भेजे गए। भारत के उत्तर और पूर्वी इलाकों में और बांग्लादेश चाइना और कोरिया में सदियों से इस्तेमाल होता रहा है कि एक स्टडी में बाकी ऑयल के साथ संपर्क किया तो पता चला कि सरसों के तेल में ओमेगा-3 और ओमेगा सेक्स करें तो सबसे बेहतर है। यह आता है और ऊपर से इसका स्कूटी भी बहुत आई है जिसकी वजह से आपने देखा होगा कि अक्सर ही दिन के लिए सरसों के तेल का इस्तेमाल होता है और सबसे अच्छी बात है कि बजट फ्रेंडली भी है। भारत में रहते हुए आप इन चारों में से कोई भी वर्ड यूज कर सकते हैं। हम लोगों ने इसका इस्तेमाल कर रहे थे लेकिन कुछ ऐसे। देसी मार्केटिंग कैंपेन्स के चलते हमने इनवेड्स को बंद कर दिया और रिफाइंड ऑयल ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया।

 

Heath Benefits of Cooking Oil

इसलिए आप समझ सकते हैं कि कितना ब्रेनवाशिंग हो सकता है। एक मार्केटिंग कैंपेन भारत में तो खाना बनाने के लिए कौन सा वर्ड यूज़ करना है। यह डिफरेंट करता था कि आपके शरीर से बिलॉन्ग करते हैं जैसे केरला तमिलनाडु से हैं तो कोकोनट ऑयल बांद्रा और राजस्थान में तिल का तेल और थॉर्टन इंडिया में सरसों का तेल सेंट्रल इंडिया गुजरात में मूंगफली का तेल सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है। अगर आप ध्यान से देखिए इस क्लाइमेट को सपोर्ट करते हैं बल्कि यहां नौकरी पकाए जाने वाली डिशेस के फ्लेवर कैसे बनाते हैं। आपके कन्वीनियंस के लिए मैंने भारतीय मार्केट में अवेलेबल कॉन्फ्रेंस को डिस्क्रिप्शन बॉक्स में लिख कर दिया है। दूरी है या गर्मी के बारे में बात ना करें। सभी वॉइस में सबसे ज्यादा स्मोकिंग फॉर इंडियन डाउटेड डिफेंस है। हर तरह की बुकिंग के लिए।

को एक बार यूज करके दोबारा यूज नहीं करना चाहिए। छोटे होते हैं। यह कोलेस्ट्रोल बनाता है तो प्लीज यह दिल वीडियो देखने जो मैंने अपने इंग्लिश चैनल पर बनाई थी। यह जानकर कि अमेरिका में नहीं को क्लेरिफाइड बटर का दर्जा दिया जा चुका है। दो-तीन चम्मच घी डालकर पीने की सलाह दे रहे हैं। सकते हैं रोज रोज खाना पकाना। सब लोग आ फोन ना कर सको तो क्या बात है और जब मेरा मतलब है परंतु रिफाइंड ऑयल खाना पकाने के लिए सबसे बेकार वाइंस है। मेरे हिसाब से तो इन्हीं कर देना चाहिए। तेल सरसों, मूंगफली और नारियल के कुल प्रेस प्रेस प्रेस थे। इंडियन कुकिंग के लिए, लेकिन हर तरह की कोचिंग के लिए हिंदी है। दोस्तों इसको इस्तेमाल करना शुरू कर दें क्योंकि हिंदी लाइफस्टाइल की तरफ बढ़ने का यह शायद सबसे इजी स्टेप है।

 

 

अगर आपको यह वीडियो बिल्कुल लगे हो तो प्लीज लाइक किए बिना मर जाना तू सामान करना चाहते हैं तो बिग मसल्स न्यूट्रिशन का सुपर इंजन से अच्छा ऑप्शन है। भारतीय मार्केटेबल 45 की गई है जिससे अगर आपको इनविटेशन फेस कर रहे हैं तो फायदा ले सकते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि इसमें कोई आर्टिफिशियल फ्लॉवर्स प्रिजर्वेटिव स्टेबलाइजर्स नहीं डाले हुए। Non-gmo गूगल फ्री सोए फ्री फॉर बिगनर्स इन दोनों यूज कर सकते हैं। दोस्तों इस वीडियो में इतना है। अब आप मेरे काम को ज्वाइन बटन क्लिक करके भी सपोर्ट कर सकते हैं। प्लीज चैनल को सब्सक्राइब करना ना भूलना देना ताकि मैं अपने आप को पता चल जाए। मुझे इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *